आज का पंचांग, आरती, चालीसा, व्रत कथा, स्तोत्र, भजन, मंत्र और हिन्दू धर्म से जुड़े धार्मिक लेखों को सीधा अपने फ़ोन में प्राप्त करें।
इस 👉 टेलीग्राम ग्रुप 👈 से जुड़ें!

Skip to content

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra): संपन्नता और कल्याण की ओर

श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra)

आज का पंचांग जानने के लिए यहाँ पर क्लिक करें।
👉 पंचांग

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहों और नक्षत्रों का हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव होता है। भारतीय संस्कृति में भी नक्षत्रों का विशेष महत्व है।

इन ग्रहों और नक्षत्रों में से एक नक्षत्र है, जिसका नाम है “श्रवण नक्षत्र Shravana Nakshatra)“। यह नक्षत्र आसमान में चमकता है और हमारे जीवन में आशीर्वाद और प्रकाश लेकर आता है।

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) का पूजन भगवान विष्णु के समरूप में किया जाता है।

श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra) कब है?

इस बार 2023 में इसे 29 अगस्त को मनाया जाएगा। हिन्दू पंचांग के अनुसार, इस बार 29 अगस्त को मंगलवार के दिन श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) का पूजन किया जाएगा।

इस समय श्रवण नक्षत्र की साक्षी, शोभन योग, तैतिल कारण, और मकर राशि के चंद्रमा की उपस्थिति दर्शायी जा रही है।

इस बार अधिक मास की वजह से नक्षत्र की गणना में 48 घंटे का अंतर है, और इसलिए त्रयोदशी तिथि के दिन श्रवण का पूजन आयोजित किया जा रहा है।

श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra) का महत्व?

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) का पूजन विशेष महत्व रखता है। इसे भगवान विष्णु के नक्षत्र के रूप में माना जाता है और इसका पूजन विशेष आनंद और आशीर्वाद देता है।

श्रवण नक्षत्र के दिन, भगवान विष्णु के पूजन से सभी दुख और संकट दूर होते हैं और जीवन में सुख-शांति बनी रहती है।

श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra) का पूजन कैसे करें?

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के दिन, भगवान विष्णु की पूजा करने से विशेष फल मिलता है। इसके लिए, आप निम्नलिखित विधि का पालन कर सकते हैं:

  • मूर्ति पूजा: यदि आप मूर्ति के साथ पूजा कर रहे हैं, तो भगवान विष्णु की स्वर्ण पत्र पर अंकित मूर्ति का पूजन करें। पंचोपचार पूजा के माध्यम से पूर्व दिशा में इसे स्थापित करें।
  • चित्र पूजा: दूसरे विधि में, आप अपने घर की दीवारों पर श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) का चित्र बना सकते हैं। आपकी दीवारों पर इस नक्षत्र का चित्र अंकित करके पूजा करें।
  • प्रार्थना: पूजा करते समय, आपको भगवान विष्णु से अपनी मनोकामनाओं की प्रार्थना करनी चाहिए। आप उनसे दुखों और संकटों के नाश के लिए प्रार्थना कर सकते हैं।
श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra)
सौजन्य – Yuting Gao

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के चमकते तारे

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के दिन, आकाश में दिव्य प्रकाश के साथ तारे चमकते हैं । यह दृश्य अद्वितीय होता है और लोग इसे देखकर अचरज में भी पड़ जाते हैं। इसे देखकर लोग अपने जीवन में आशीर्वाद और समृद्धि की प्रार्थना करते हैं।

इस दिन, लोग अपने उद्देश्यों को पूरा करने के लिए नए संकल्प लेते हैं और नई शुरुआतें करते हैं।

श्रवण नक्षत्र 2023 (Shravana Nakshatra) के लाभ

श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के पूजन से बहुत सारे फायदे मिलते हैं। यह नक्षत्र दुख और दरिद्रता के नाश के लिए जाना जाता है और इसका पूजन करने से व्यक्ति के जीवन में सुख-शांति बरकरार रहती है।

इसके अलावा, इस नक्षत्र के पूजन से व्यक्ति की आत्मा को शांति मिलती है और वह अपने मानसिक स्वास्थ्य को सुधारता है।

इस महत्वपूर्ण लेख को भी पढ़ें – हरे रामा हरे कृष्णा (Hare Rama Hare Krishna): आध्यात्मिकता की अनमोल धारा

निष्कर्ष

इस बार 29 अगस्त 2023 को आने वाले श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के दिन, हम सभी को अपने जीवन में नई शुरुआत करने का अच्छा मौका मिलेगा।

इस दिन का पूजन करके हम भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त कर सकते हैं और अपने जीवन में सुख-शांति को बनाए रख सकते हैं।

इस श्रवण नक्षत्र (Shravana Nakshatra) के दिन भगवान विष्णु का पूजन करें और अपने जीवन को सफलता और खुशियों से भर दें। श्रवण नक्षत्र 2023 को एक महत्वपूर्ण और धार्मिक दिन के रूप में मनाएं और भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त करें।

इसके द्वारा, हम अपने जीवन में सुख और समृद्धि को आमंत्रित कर सकते हैं और अपने मानसिक और आत्मिक स्वास्थ्य में सुधार सकते हैं।

इसलिए, इस दिन का महत्व समझें और इसका सही तरीके से उपयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page