हिन्दू धर्म के अनुसार 6 ऋतुओं के नाम और उनके बारे में विस्तार से जानकारी (6 Seasons Of India)

हिन्दू धर्म के अनुसार 6 ऋतुओं के नाम और उनके बारे में विस्तार से जानकारी

हिन्दू धर्म के अनुसार 6 ऋतुओं के नाम और उनके बारे में विस्तार से जानकारी (6 Seasons Of India) आपने सुना होगा कि हिन्दू धर्म में 6 प्रकार की ऋतुएं (6 Seasons Of India) बताई गयी हैं। ऋतु का एक अर्थ मौसम से भी है। पूरे वर्ष में अलग-अलग तरह का मौसम रहता है। यह … Read more

हिन्दू पंचांग में राहुकाल का क्या अर्थ है? (What Is RahuKaal?)

हिन्दू पंचांग में राहुकाल का क्या अर्थ है (What Is RahuKaal)

हिन्दू पंचांग में राहुकाल का क्या अर्थ है? (What Is RahuKaal?) हिन्दू पंचांग एक हिन्दू कैलेंडर है जिसका उपयोग समय की सटीक जानकारी के लिए भारतीय उपमहाद्वीप में किया जाता है। समय की जानकारी के साथ साथ पंचांग से आज की तिथि, शुभ मुहूर्त, राहुकाल, नक्षत्र, योग, वार और कारण आदि का पता भी लगाया … Read more

हिन्दू पंचांग में शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष क्या होता है? (What Is Shukla Paksha And Krishna Paksha In Hindu Panchang?)

हिन्दू पंचांग में शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष क्या होता है (What Is Shukla Paksha And Krishna Paksha In Hindu Panchang)

हिन्दू पंचांग में शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष क्या होता है? (What Is Shukla Paksha And Krishna Paksha In Hindu Panchang?) चन्द्रमा एक तिथि में 12 अंश (12 डिग्री) का चक्कर लगाता है। इसी तरह 30 दिनों में चन्द्रमा पूरी पृथ्वी का एक चक्कर लगाता है। हिन्दू पंचांग में कुल मिला कर 30 तिथियां होती … Read more

हिन्दू पंचांग क्या है? (What Is Hindu Panchang?)

हिन्दू पंचांग क्या है (What Is Hindu Panchang)

हिन्दू पंचांग क्या है? (What Is Hindu Panchang?) हिन्दू पंचांग को हिन्दू कैलेंडर या पंजिका भी कहा जाता है। हिन्दू पंचांग एक चंद्र-सौर कैलेंडर है जिसका उपयोग भारतीय उपमहाद्वीप में किया जाता है। पंचांग प्राचीन काल में विद्वान ऋषियों और ज्योतिष शास्त्रियों द्वारा निर्मित एक हिन्दू कैलेंडर है जिससे तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण … Read more

मंदिर में नारियल क्यों फोड़ा जाता है?

मंदिर में नारियल क्यों फोड़ा जाता है

मंदिर में नारियल क्यों फोड़ा जाता है? हिन्दू धर्म में अनेक तरह के धार्मिक रीति रिवाज़ हैं। हिन्दू धर्म तो बस एक नाम है, असल में तो यह “सनातन धर्म” है। इस धर्म के अनेक पहलु हैं और इनको जितना जाना जाए उतना ही कम है। आपने भी अपने जीवन में कभी न कभी किसी … Read more

भगवान ब्रह्मा जी के 29 नाम और उनके अर्थ

भगवान ब्रह्मा जी के 29 नाम और उनके अर्थ

भगवान ब्रह्मा जी के 29 नाम और उनके अर्थ ब्रह्मा भगवान को त्रिदेवों में से एक जाना जाता है। त्रिदेव वे हैं जिनके पास इस सृष्टि का सृजन, संतुलन और विनाश करने का कार्यभार है। भगवान विष्णु को इस सृष्टि के सञ्चालन का कार्यभार है तो भगवान शिव इस सृष्टि का विनाश या विध्वंस करते … Read more

भगवान शिव और माता सती का विवाह

भगवान शिव और माता सती का विवाह

भगवान शिव और माता सती का विवाह आज इस लेख में हम बात करेंगे “देवों के देव” भगवान शिव और माता सती के बारे में। माता सती “आदि शक्ति” का ही एक रूप हैं। भगवान शिव परम तत्व हैं तो आदि शक्ति इस परम तत्व का एक अभिन्न अंग हैं। आदि शक्ति परम तत्व की … Read more

हिंदुओं के पवित्र चार धाम किस राज्य में स्थित हैं?

हिंदुओं के पवित्र चार धाम किस राज्य में स्थित हैं

हिंदुओं के पवित्र चार धाम किस राज्य में स्थित हैं? हिन्दू धर्म में चार धाम बहुत ही पवित्र स्थल माने जाते हैं। यह चार धाम चार तीर्थ स्थलों का समूह हैं जिनके बारे में ऐसा माना जाता है कि इनकी यात्रा करने से मोक्ष की प्राप्ति करने में सहायता मिलती है। यह भी कहा जाता … Read more

भगवान शिव ने शंखचूड़ (शंखचूर) का वध कैसे किया?

भगवान शिव ने शंखचूड़ (शंखचूर) का वध कैसे किया

भगवान शिव ने शंखचूड़ (शंखचूर) का वध कैसे किया? भगवान शिव को “देवों के देव” भी कहा जाता है। हिन्दू धर्म ग्रंथों के अनुसार वह समय – समय पर अपने भक्तों की रक्षा करते रहे हैं। शिवपुराण में भगवान शिव और शंखचूड़ के बिच एक भीषण युद्ध का वर्णन किया गया है। इस लेख में … Read more

भगवान शिव ने अर्जुन की परीक्षा क्यों ली?

भगवान शिव ने अर्जुन की परीक्षा क्यों ली

भगवान शिव ने अर्जुन की परीक्षा क्यों ली? हिन्दू धर्म को मानने वालों को भगवान शिव के बारे में तो जानकारी ज़रूर होगी। भगवान शिव त्रिदेवों में से एक हैं और उनका कार्य सृष्टि का विध्वंस करना है। अब यहाँ पर ऐसा मत समझ लीजियेगा कि भगवान विध्वंस कैसे कर सकते हैं। इसके बारे में … Read more

आज का पंचांग जानने के लिए यहाँ पर क्लिक करें। 👉

X
You cannot copy content of this page